ॐ जय श्री जीण माता, जय श्री जीण माता Jeen Mata Ki Aarti Lyrics in Hindi

ॐ जय श्री जीण माता, जय श्री जीण माता Jeen Mata Ki Aarti Lyrics in Hindi
Jai Jeen Mata Aarti Hindi



ॐ जय श्री जीण माता, जय श्री जीण माता Jeen Mata Ki Aarti Lyrics in Hindi

ॐ जय श्री जीण माता, जय श्री जीण माता।

ॐ जय श्री जीण माता, जय श्री जीण माता।
जो ध्यावत जग झंझट, उसका कट जाता ।। ॐ जय।।


रत्न जड़ित सिंहासन, अद्भुत छवि न्यारी।
सिर पर छत्र लसत है, राजत महतारी ।। ॐ जय।।


कर कंगन, मुख बेसर, गल माला सोहे।
मस्तक बिंदिया दमके, मुनि जन मन मोहे ।। ॐ जय।।


उमा रमा है तू ही, ही ब्रह्माणी।
सिंह वाहिनी तू ही, महिमा जग जानी ।। ॐ जय।।


झांझ मृदंग नगारों की ध्वनि अति प्यारी।
दर्शन कर मैया के हर्षित नर नारी ।। ॐ जय।।


जय अम्बे महामाया, जय मंगल करणी।
वरदायिनी जय जननी, जय जय अघ हरणी ।। ॐ जय।।


जो भी इस आरती को प्रेम सहित गावे।
कहे चिरंजी वो निश्चय सुख सम्पत्ति पावे ।। ॐ जय।।

Jai Shree Jeen Mata Aarti Video

Jeen Mata Aarti Video
  • Jeen Mata Mangalpath :- Jeen Mata Bhajan
  • Aarti Singer : Saurabh- Madhukar
  • Music Label : Sur Saurabh Industries

Popular Jeen Mata Aarti in Hindi with Lyrics

Jeen Mata Aarti Bhajan Full Lyrics in Hindi -:
ओम जय श्री जीण मइया , बोलो जय श्री जीण मइया
सच्चे मन से सुमिरे , सब दुःख दूर भया
ओम जय श्री जीण मइया

ऊंचे पर्वत मंदिर , शोभा अति भारी
देखत रूप मनोहर , असुरन भयकारी
ओम जय श्री जीण मइया

महासिंगार सुहावन , ऊपर छत्र फिरे
सिंह की सवारी सोहे , कर में खड़ग धरे
ओम जय श्री जीण मइया

बाजत नौबत द्वारे , अरु मृदंग डैरु
चौसठ जोगन नाचत , नृत्य करे भैरू
ओम जय श्री जीण मइया

बड़े बड़े बलशाली , तेरा ध्यान धरे
ऋषि मुनि नर देवा , चरणो आन पड़े
ओम जय श्री जीण मइया

जीण माता की आरती , जो कोई जन गावे
कहत रूड़मल सेवक , सुख सम्पति पावे
ओम जय श्री जीण मइया

ओम जय श्री जीण मइया , बोलो जय श्री जीण मइया
सच्चे मन से सुमिरे , सब दुःख दूर भया
ओम जय श्री जीण मइया



Shri Jeen Mata Bhajan (Goriya Dham),
Singer- Saurav Madhukar (Kolkata)…

error: Content is protected !!